बैलेंस शीट एक प्रकार का Financial Statment होता है जो किसी कंपनी,फर्म तथा किसी भी बिज़नेस के Assets और Liabilities को एक रिपोर्ट में show करता है।  

What is Balance Sheet ?

What is Balance Sheet ?

किसी भी कंपनी,फर्म,व्यक्ति या बिज़नेसमेन द्वारा अपने बिज़नेस की Financial पोजीशन जानने के लिए बैलेंस शीट बनायीं जाती है।  

बैलेंस शीट क्यों बनाया जाता है ?

बैलेंस शीट क्यों बनाया जाता है ?

बैलेंस शीट को हिंदी में " वित्तीय विबरण " कहते है।  

बैलेंस शीट को हिंदी में क्या कहते है ?

बैलेंस शीट को हिंदी में क्या कहते है ?

आमतौर पर बैलेंस शीट 12 महीने की अवधि के लिए बनाया जाता है। 

बैलेंस शीट की अवधि क्या होती है ?

बैलेंस शीट की अवधि क्या होती है ?

बैलेंस शीट बनाने से पहले ट्रेडिंग प्रॉफिट एंड लोस्स अकाउंट बनाया जाता है।  

बैलेंस शीट से पहले क्या बनाया जाता है ?

बैलेंस शीट से पहले क्या बनाया जाता है ?

हर वह बिज़नेसमेन जो अपने बिज़नेस की पोजीशन को जानना चाहता है उसके लिए Balance Sheet बनाना अनिवार्य है।  

बैलेंस शीट बनाना किसके लिए जरुरी है ?

बैलेंस शीट बनाना किसके लिए जरुरी है ?

इनकम टैक्स,जीएसटी,फाइनेंस,क्रिप्टोकोर्रेंसी और एकाउंटिंग से रिलेटेड जानकारी के लिए हमारी वेबसाइट Seekho Accounting को फॉलो करें 

SEEKHO ACCOUNTING

और वेबस्टोरी के लिए नीचे लिंक पर क्लिक करें